Top
Home > Breaking News > ध्यान दे- घर में हीं रहकर कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ रहे लड़ाई में कौन सी गोली आपको दिलाएगी जीत, पढ़ें पूरी खबर पढ़े।

ध्यान दे- घर में हीं रहकर कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ रहे लड़ाई में कौन सी गोली आपको दिलाएगी जीत, पढ़ें पूरी खबर पढ़े।

ध्यान दे- घर में हीं रहकर कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ रहे लड़ाई में कौन सी गोली आपको दिलाएगी जीत, पढ़ें पूरी खबर पढ़े।
X

0 दिन-ब-दिन बढ़ रहे मरीजों की संख्या को देखकर सरकार ने बिना लक्षण वाले संक्रमित मरीजो को होम आइसोलेशन में ही रखने का लिया है निर्णय।

ताहिर खान
कवर्धा - कोरोना वायरस का कहर प्रदेश ही नहीं देश और विदेश में भी जारी है, रोज आंकड़े बढ़ते जा रहे हैं साथ ही पॉजिटिव आने वाले मरीजों को जिनके शरीर में कम लक्षण मिल रहे हैं उन्हें होम आइसोलेशन देने की सलाह प्रशासन की ओर से दिया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग इसे लेकर बराबर मॉनिटरिंग भी कर रहा है। यदि आपको या आपके परिवार या रिश्तेदारों में कोई COVID-19 मरीज हैं तो उन्हें नीचे दिए गए गोलियों की खुराक दिया जा सकता है, जोकि स्वास्थ्य विभाग द्वारा ही जारी किया गया है। घर के अंदर कोरोना की लड़ाई लड़ रहे लोगों के लिए यह दवाई संजीवनी साबित हो सकती है और इस जंग को बेहतर ढंग से लड़ने में भी मदद मिलेगी।

वयस्क कोरोना मरीजों के लिए दवाइयों के सम्बंध में सीएमएचओ डॉ सुरेश कुमार तिवारी ने बताया कि

1 - टेबलेट हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन 200 एमजी 5 दिनों तक पहले दिन 200 एमजी (2 टेबलेट) सुबह एवं शाम भोजन उपरांत। दूसरे दिन से 200 एमजी (1 टेबलेट) सुबह एवं शाम अगले चार दिनों तक लेना है।

2- एजीथ्रोमाईसीन 500 एम जी 5 दिनों तक दिन में खाना खाने के बाद एक बार।

3- टेबलेट जिंक 20 एमजी 5 दिनों तक 1 गोली रात में भोजन के बाद ।

4- टेबलेट एस्कोर्बिक एसिड 500 एम जी पांच दिनों तक एक गोली रात में भोजन के बाद।

5- पैरासिटामोल 650 एम जी 1 गोली बुखार आने पर ।

6 - टैबलेट ओमेप्राजोल 20 एम जी 5 दिनों तक सुबह 1 गोली खाली पेट।

बच्चों को अलग से चिकित्सकीय सलाह उपरांत दवाओं का डोज दिया जाएगा।

कोरोना मरीज के प्राइमरी सम्पर्क एवं हाई रिस्क वाले वयस्क सदस्यों के लिए प्रोफैलेक्टिक डोज निम्न प्रकार से होंगे-

1 - टेबलेट हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन 200 एमजी पांच दिनों तक (2 टेबलेट) सुबह एवं शाम। अगले सप्ताह 400 एमजी भोजन के बाद इसी प्रकार अगले दो सप्ताह और यानी कुल चार सप्ताह यह टेबलेट लेना है।

2- टेबलेट जिंक सल्फेट 20 एमजी 5 दिनों तक 1 गोली रात में भोजन के बाद ।

3- टेबलेट एस्कोर्बिक एसिड 500 एम जी पांच दिनों तक एक गोली रात में भोजन के बाद।

4- टैबलेट ओमेप्राजोल 20 एम जी 5 दिनों तक सुबह 1 गोली खाली पेट।

ओमेप्राजोल को छोड़कर कोई भी दवा खाली पेट बिल्कुल न लें।

Updated : 13 Sep 2020 2:42 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top