Top
Home > Breaking News > कोविड फोबिया से मरीजों को बचाने COVID केयर के मरीजों की रोजाना दी जा रही मोटिवेशनल काउंसलिंग।

कोविड फोबिया से मरीजों को बचाने COVID केयर के मरीजों की रोजाना दी जा रही मोटिवेशनल काउंसलिंग।

कोविड फोबिया से मरीजों को बचाने COVID केयर के मरीजों की रोजाना दी जा रही मोटिवेशनल काउंसलिंग।
X

0 मानसिक परेशानियों को कम करने उद्देश्य से दी जा रही परामर्श- कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा

ताहिर खान/कवर्धा - कोविड केयर सेंटर महाराजपुर में हर आयु वर्ग व अलग-अलग शारीरिक और मानसिक दशाओं वाले व्यक्तियों का आइसोलेट करके उपचार किया जा रहा है। 300 बिस्तर वाले इस अस्पताल में वर्तमान में 120 मरीज उपचारित हैं। इनको मानसिक व अन्य स्वास्थ्यगत परेशानियों से दूर रखने के उद्देश्य से रोजाना मोटिवेशनल परामर्श दिया जा रहा है। कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा इस विषय में कहते हैं कि मरीजों की सम्पूर्ण देखभाल आवश्यक है और शासन-प्रशासन द्वारा अपनी ओर से हर सम्भव प्रयास की रही है कि मरीजों को कोरोना के फोबिया से बचाया जाए। उन्होंने कहा कि वर्तमान में उक्त वैश्विक महामारी से जूझ रहे लोगों की मनोदशाओं को ठीक रखने के उद्देश्य से मोटिवेशनल परामर्श आरम्भ किया गया है। होम आईशोलेट मरीजों के लिए भी टेलीफोनिक चिकित्सकीय परामर्श , मानसिक स्वास्थ्य सम्बन्धी परामर्श व घर पहुच दवा सेवाओं को आरम्भ कर दिया गया है।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुरेश कुमार तिवारी ने बताया कि विकासखण्डवार चिकित्सकीय व अन्य परामर्श के लिए मेडिकल ऑफिसर,आर एम ए, फार्मासिस्ट, सेक्टर सुपरवाइजर, काउंसलर्स, ए एन एम की ड्यूटी लगाई गई है। इसी प्रकार दवा वितरण के लिए लिए भी टीम गठित कर दो पालियों में ड्यूटी लगा दी गई है। उन्होंने बताया कि डॉ स्वदेश जायसवाल, डॉ अरुण चौरसिया, डॉ तपन चंद्रवंशी व स्व. सुधा देवी नर्सिंग महाविद्यालय की प्राचार्य श्रीमती नारायणी साहू की ड्यूटी होम आइसोलेट मरीजों के टेली कंसल्टेंसी, दवाई वितरण चिकित्सकीय परामर्श अपने मार्गदर्शन में कराने के लिए लगाई गई है। डॉ तिवारी ने बताया कि सभी सम्बन्धित स्टाफ को स्टेट से लगातार ऑनलाइन ट्रेनिंग भी दी जा रही है व आवश्यकतानुसार जिला स्तर पर भी समय-समय पर अनेक प्रशिक्षण दिए जा रहे हैं, जिससे कार्य सुचारू रूप से होता रहे।

Updated : 13 Sep 2020 2:15 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top