Top
Home > छत्तीसगढ़ > अगर आप धूम्रपान के शौकीन हैं तो हो जाइए सावधान, सार्वजनिक जगह में धूम्रपान करते देख पुलिस ले जा सकती है थाना, होगा मामला दर्ज।

अगर आप धूम्रपान के शौकीन हैं तो हो जाइए सावधान, सार्वजनिक जगह में धूम्रपान करते देख पुलिस ले जा सकती है थाना, होगा मामला दर्ज।

अगर आप धूम्रपान के शौकीन हैं तो हो जाइए सावधान, सार्वजनिक जगह में धूम्रपान करते देख पुलिस ले जा सकती है थाना, होगा मामला दर्ज।
X

0 चार लोगों पर धूम्रपान प्रतिषेध अधिनियम के तहत देर शाम की गई कार्रवाई।

ताहिर खान
कवर्धा- सदाबहार हीरो देवानंद पर फिल्माया गया गाना हर फिक्र को धुएं में उड़ाता चला गया, बर्बादियों का जश्न मनाता चला, गाते हुए सार्वजनिक स्थलों में सिगरेट या बीड़ी के धुआं उड़ाने का शौक है तो आपके लिए यह शौख बेहद भारी पड़ सकता है, साथ ही थाना और कोर्ट कचहरी का चक्कर भी लगवा सकता है। धूम्रपान करना कई लोगों की आदत में शुमार हैं,हालांकि डॉक्टर इसे कैंसर की वजह बताते जरूर है, लेकिन शायद ही कोई कैंसर के डर से धूम्रपान को दरकिनार करता होगा। बीड़ी और सिगरेट की धुंआ के छल्लो को सार्वजनिक स्थलों में गस्त करता हुआ आसानी से सुबह से लेकर देर रात तक देखा जा सकता है। छोटे बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक धूम्रपान करना अपनी शान समझता है लेकिन यदि आप धूम्रपान के शौकीन हैं और वह भी सार्वजनिक स्थल पर चाय की चुस्कीयों के साथ धुआं के छल्ले उड़ाते हुए नजर आएंगे तो अब पुलिस आपको सीधे पकड़ कर थाने ले जा सकती है और आप पर धूम्रपान प्रतिषेध अधिनियम के तहत कार्रवाई कर सकती है। जी हां आज यदुनाथ गौशाला के पास चार लोग सड़क में देर शाम धूम्रपान का मजा ले रहे थे, इसी दौरान टीआई निमितेश सिंह की नजर पड़ गई तुरंत अपने साथियों रघुवंश पाटिल , मुकेश साहु, मनोज तिवारी , संतोष वर्मा , शमशेर खान , संदीप शुक्ला , अनिल पाण्डेय के साथ उन चारों को पकड़ कर थाने ले आये और उन चारों के खिलाफ खिलाफ कार्यावाही धारा 02-03 कोटपा ( छ.ग. धुम्रपान प्रतिषेध अधिनियम ) के तहत कार्यावाही किया गया।

लगातार करवाई से मिलेगी राहत

निश्चित रूप से उन सभी लोगों के लिए खासकर महिलाओं के लिए राहत देने वाली है जो धूम्रपान नहीं करते और सार्वजनिक स्थलों में बेवजह जबरदस्ती धूम्रपान के दौरान निकले धुंआ से परेशान रहते हैं उनके लिए एक बड़ी राहत हो सकती है।

क्या सबके लिए बराबर होगा कानून

धूम्रपान का शौक़ या लत आम आदमी से लेकर बड़े-बड़े शासकीय अधिकारियों, कर्मचारियो को भी है। कई बार इन्हें भी सार्वजनिक रूप से धूम्रपान करते देखा गया है, यहां तक पुलिस विभाग के ही कई कर्मचारी भी धुम्रपान करते हुए गाहे-बगाहे दिख जाते हैं तो क्या पुलिस अपने विभाग के कर्मचारियों व शासकीय सेवकों पर धूम्रपान प्रतिषेध अधिनियम के तहत कार्रवाई कर पाएगी या कानून सिर्फ आम लोगों के लिए ही है। बहरहाल यह तो आने वाला वक्त है तक तय करेगा। फिलहाल पुलिस की यह करवाई स्वागत योग्य है।

Updated : 4 Sep 2020 7:46 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top