Top
Home > छत्तीसगढ़ > निर्माण से पहले कांग्रेस कार्यालय विवादों की जद में, होमगार्ड को आवंटित जमीन पर बनाने का लगा आरोप।

निर्माण से पहले कांग्रेस कार्यालय विवादों की जद में, होमगार्ड को आवंटित जमीन पर बनाने का लगा आरोप।

निर्माण से पहले कांग्रेस कार्यालय विवादों की जद में, होमगार्ड को आवंटित जमीन पर बनाने का लगा आरोप।
X

0 भाजपा के कार्यकर्ताओं ने सोशल मीडिया में लगाया आरोप।

0 ग्राम छिरहा में राहुल गांधी की मौजूदगी में नवीन कांग्रेस कार्यालय का हुआ भूमि पूजन

ताहिर खान
कवर्धा- राजनीतिक पार्टियों का विवादों से चोली दामन का साथ होता है हर छोटा या बड़ा काम बिना विवाद के या आरोप-प्रत्यारोप के पूरा हो जाए ऐसा बहुत कम ही देखा गया है। कांग्रेसी जो कि 15 साल का वनवास काटकर छत्तीसगढ़ की सत्ता पर का काबीज हो चुका है इससे पहले भाजपा ने 15 साल के भीतर अनेको जिलों में भाजपा कार्यालय का निर्माण कराया था। अब बारी कांग्रेस की थी सो स्वर्गीय राजीव गांधी के जयंती यानी सद्भावना दिवस के दिन छत्तीसगढ़ के 22 जिलों में होने वाले भूमिपूजन में वर्चुअल रूप से राहुल गांधी शामिल हुए और उनकी मौजूदगी में कांग्रेस कार्यालय का भूमि पूजन हुआ लेकिन कवर्धा में के ग्राम छिरहा के हल्का नंबर 14 के 296/2 रकबा 2.296 हेक्टयर में बनने वाले कांग्रेस कार्यालय भवन बनने से पहले विवादो के भंवर में फसता हुआ दिखाई दे रहा है।

होमगार्ड कार्यालय के लिए आरक्षित है जमीन

आपको यह बता दे कि जिस जमीन में आज कांग्रेस कार्यालय का भूमि पूजन हुआ है वह पहले होमगार्ड कार्यालय के लिए सरकार के तरफ से दी गई थी अब उसी जमीन में लगभग 1 एकड़ में कांग्रेस कार्यालय बनाने की तैयारी की जा रही है जिसका भूमि पूजन हुआ है मामला यहीं पर आकर अटक गया।

भाजपा ने लगाया गंभीर आरोप।

भूमि पूजन के बाद भाजपा कार्यकर्ता सोशल मीडिया में कांग्रेस कार्यालय भूमि पूजन पर सवाल उठाने हुए कहा कि जिस जमीन को आवंटित किया जा चुका है उस पर भूमि पूजन नहीं होना था, जबकि मामला अभी तहसीलदार न्यायालय में विचाराधीन है जिसकी सुनवाई 31 अगस्त को होनी है जब मामला विचाराधीन है और अभिमत/अनापत्ति तहसीलदार के द्वारा मंगाया गया है तो 31 अगस्त तक इंतजार क्यों नहीं किया गया।

कांग्रेस ने कहा अग्रिम अधिपत्य के आधार पर किया गया भूमि पूजन।

इस आरोप का जवाब देते हुए जिला कांग्रेस अध्यक्ष नीलकंठ उर्फ नीलू चंद्रवंशी ने CG संवाद से बात करते हुए कहा कि यह पूरी प्रक्रिया कानून के दायरे में है। होमगार्ड कार्यालय के 5 एकड़ जमीन में से 1 एकड़ कांग्रेस कार्यालय के लिए मांगा गया है, जिसकी उन्हें एनओसी भी मिल चुकी है साथ ही अग्रिम अधिपत्य के आधार पर आज भूमि पूजन किया गया है। तहसीलदार न्यायालय जो भी निर्णय आएगा वह सर्वमान्य होगा उसका पूर्णता पालन किया जाएगा। आने वाले निर्णय को उच्च पदाधिकारी तक अवगत कराने के बाद आगे की प्रोसीजर आदेश अनुसार किया जाएगा।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कांग्रेस को करना था इंतजार

भाजपा अध्यक्ष अनिल ठाकुर ने CG संवाद से बात करते हुए कहा कि मामला जैसा भी हो तहसीलदार के द्वारा जब अभिमत/ अनापत्ति मंगाया गया है जिसकी सुनवाई की तारीख 31 अगस्त है, तो कांग्रेस को 31 अगस्त तक इंतजार करना था यदि उनको भूमि मिल जाती तो वे भवन का भूमि पूजन कर सकते थे, लेकिन फिलहाल अभी उन्हें पूर्ण रूप से आवंटन हुआ नहीं है मामला न्यायालय में विचाराधीन है ऐसे में कांग्रेस के भूमि पूजन पर सवाल उठना लाजमी है।

तहसीलदार कार्यालय से जारी ज्ञापन

Updated : 20 Aug 2020 3:51 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top