Top
Home > Breaking News > पहले चोरी की, फिर सबूत मिटाने के लिए पान ठेले में लगा दी आग, एक नाबालिग सहित चार आरोपी पुलिस के गिरफ्त में।

पहले चोरी की, फिर सबूत मिटाने के लिए पान ठेले में लगा दी आग, एक नाबालिग सहित चार आरोपी पुलिस के गिरफ्त में।

पहले चोरी की, फिर सबूत मिटाने के लिए पान ठेले में लगा दी आग, एक नाबालिग सहित चार आरोपी पुलिस के गिरफ्त में।
X

0 नवीन बाजार स्थित एक पान ठेले में लगी थी आग जिसके जांच में हुआ खुलासा
0 24 घण्टे के अंदर कोतवाली पुलिस ने धर दबोचा

ताहिर खान/ कवर्धा- चोरी के हथकंडे चोर नए-नए तरीके से अपनाते रहते हैं, कवर्धा के नवीन बाजार में 1 दिन पहले हुए एक पान ठेले में आगजनी की घटना की जांच में चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं जिसमें चोरों ने पहले चोरी की फिर सबूत को मिटाने के लिए पान ठेले में ही आग लगा दी और बचने के तमाम कोशिशें भी की लेकिन पुलिस में परत दर परत जांच करते हुए अंततः आरोपियों को अपनी गिरफ्त में ले लिया, जिसमें एक नाबालिग सहित चार आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रार्थी भावनी शंकर गुप्ता ने 1 अगस्त की को चोरी की शंका और पान ठेले में आग लगने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी, जिसकी जांच में पुलिस जुट गई। मामले का मुखबिरों और मौका साक्ष्य में मिले सबूतों को कड़ी-दर-कड़ी जोड़ते हुए पुलिस कई लोगों से पूछताछ की साथ ही पान ठेला में आग लगे हुए सामानों की तफ्तीश की गई जिसमें पता चला कि बहुत ज्यादा सामान पान ठेले में नहीं था समान निकालने के बाद पान ठेले को आग के हवाले कर दिया गया था, जिसकी शंका पान ठेला संचालक ने भी जताई थी। पुलिस ने इस मामले में तत्परता दिखाते हुए कई कड़ी को आपस में जोड़ा और इस घटना को अंजाम देने वाले एक नाबालिक के साथ सुनील कोसले पिता कन्हैया कोसले,वीरू सारथी पिता राम प्रसाद, राकेश खोब्रागड़े पिता कन्हैया को पुछताछ किया गया जिसमें घटना को अंजाम देने स्वीकार किया। आरोपीगणो के पेश करने चोरी गये मशरूक जुमला कीमती 5000 रुपये को जप्त कर आरोपीगण को ज्यूडिसियल रिमाण्ड पर भेजा गया है। इस घटना में 14000 सामान व पान ठेला 30000 का जलकर नष्ट हो गया था।आरोपियों के खिलाफ अपराध क्रमांक 385/2020 धारा 457,380,436 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है।

इस कार्यवाही मे थाना प्रभारी निमितेश सिह , आशीष सिंह , उमा उपाध्याय, देवनारायण चंद्रवंशी, गज्जू सिह,राजेश्वर कोसरिया, बिसेन चन्द्रवंशी ने जांच में अपनी अहम भूमिका अदा की।

Updated : 3 Aug 2020 11:42 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top