Top
Home > छत्तीसगढ़ > वन विभाग द्वारा 191 सागौन के चिरान जप्त,अवैध लकड़ी परिवहन, वन्य प्राणी शिकार तथा अतिक्रमण के खिलाफ अभियान लगातार जारी।

वन विभाग द्वारा 191 सागौन के चिरान जप्त,अवैध लकड़ी परिवहन, वन्य प्राणी शिकार तथा अतिक्रमण के खिलाफ अभियान लगातार जारी।

वन विभाग द्वारा 191 सागौन के चिरान जप्त,अवैध लकड़ी परिवहन, वन्य प्राणी शिकार तथा अतिक्रमण के खिलाफ अभियान लगातार जारी।
X

0 अवैध कटाई की लगातार मिल रही थी शिकायत।

रायपुर- छत्तीसगढ़ के जंगलों में लगातार अवैध कटाई व वन्य प्राणियों के शिकार के घटना को देखते हुए वन विभाग सतर्क हो गया है। अवैध कटाई के संबंध में लगातार मिल रही शिकायत के बाद वन मंत्री मोहम्मद अकबर के निर्देशानुसार वन विभाग द्वारा अवैध लकड़ी के परिवहन, वन्य प्राणियों के शिकार तथा वन क्षेत्रों में अतिक्रमण की रोकथाम के लिए अभियान लगातार जारी है। इस कड़ी में प्रधान मुख्य वन संरक्षक राकेश चतुर्वेदी के मार्गदर्शन में अभियान के तहत बिलासपुर वनमण्डल के बेलगहना वन परिक्षेत्र में लगातार दो दिनों में दो अलग-अलग जगह पर बड़ी कार्रवाई करते हुए 191 नग सागौन तथा शीशम के चिरान और 99 नग फर्नीचर निर्माण का सामान जब्त किया गया है। मुख्य वन संरक्षक अनिल सोनी ने बताया कि उक्त चिरान और फर्नीचर निर्माण संबंधी सामान वनमण्डलाधिकारी बिलासपुर कुमार निशांत के निर्देशानुसार गठित टीम द्वारा ग्राम बेलगहना और शक्ति बहरा के पांच आरोपियों के घर से जप्त किया गया है। इनमें 22 जुलाई को वन परिक्षेत्र बेलगहना के अंतर्गत ग्राम शक्ति बहरा से चार व्यक्तियों के घर से छापामार कार्रवाई में 66 नग सागौन के चिरान और बढ़ईगिरी के 46 नग सामान जप्त किया गया। इनका अनुमानित मूल्य लगभग 50 हजार रूपए आंका गया है। इसी तरह अभियान के तहत वन विभाग की टीम द्वारा 23 जुलाई की सुबह ग्राम बेलगहना एक व्यक्ति के घर में छापामार कार्रवाई कर 85 नग सागौन तथा शीशम प्रजाति के चिरान और 53 नग फर्नीचर बनाने के सामान को जप्त किया गया। इनका अनुमानित मूल्य 50 हजार रूपए से अधिक आंका गया है।

Updated : 24 July 2020 3:13 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top