Top
Home > छत्तीसगढ़ > छत्तीसगढ़ राज्य तो बन गया लेकिन जाति विहीन छत्तीसगढ़िया समाज बनाने का खूबचंद बघेल का सपना पूरा करना अभी बाकी है।

छत्तीसगढ़ राज्य तो बन गया लेकिन जाति विहीन छत्तीसगढ़िया समाज बनाने का खूबचंद बघेल का सपना पूरा करना अभी बाकी है।

छत्तीसगढ़ राज्य तो बन गया लेकिन जाति विहीन छत्तीसगढ़िया समाज बनाने का खूबचंद बघेल का सपना पूरा करना अभी बाकी है।
X

0डा. खूबचंद बघेल के 121 वां जन्म दिन के अवसर पर बोले वक्ता।

0अंतर्जातीय विवाह करने वालों को दंडित करने वाले समाज बघेल के सपनों को पूरा करने में बाधा खड़ी करते हैं

ताहिर खान-

छत्तीसगढ़ स्वाभिमान मंच द्वारा डा. खूबचंद बघेल के 121 वां जन्म दिन के अवसर पर आज तीर्थराज पैलेस दुर्ग में जयंती समारोह का आयोजन किया गया।
इस अवसर पर उपस्थित मंच के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष एड. राजकुमार गुप्त ने कहा कि डा. खूबचंद बघेल छत्तीसगढ़ को अलग राज्य बनाये जाने के शिल्पकार थे यह सभी जानते हैं वे एक समाज सुधारक भी थे और जातियों के भेद को समाप्त करके एक छत्तीसगढ़िया समाज बनाना चाहते थे यह बात कम लोग ही जानते हैं और यदि जानते भी हैं तब जानबूझकर बघेल जी के इस पहलू को नजरअंदाज करने की कोशिश करते हैं बघेल जी अच्छी तरह जानते थे कि जातिविहीन छत्तीसगढ़िया समाज बनाये बिना छत्तीसगढ़ राज्य के लक्ष्य को प्राप्त करना दुरूह कार्य होगा, मंच के अध्यक्ष राजकुमार गुप्त ने छत्तीसगढ़ के जातीय समाजों को आड़े हाथों लेते हुए आरोप लगाया कि अंतरफिरका विवाह करने के कारण जिन लोगों ने बघेल जी को दंडित किया था वही लोग अंतर्जातीय विवाह करने वालों को दंडित करके बघेल जी के सपनों को पूरा करने में आज भी बाधा खड़ी कर रहे हैं
जयंती समारोह को संबोधित करते हुए अतिथि वक्ता एक्टू के महासचिव श्यामलाल साहू ने कहा कि बघेल जी के छत्तीसगढ़िया वाद का असली मकसद एक शोषण विहीन राज्य बनाना था जहां न कोई शोषक हो और न शोषित, बघेल जी के सपनों का छत्तीसगढ़ राज्य बनाना अभी बाकी है, जयंती समारोह को मंच के प्रदेश महासचिव पूरनलाल साहू, युवा स्वाभिमान मंच के प्रदेश संयोजक रऊफ खान के अलावा मुम्बई में फिल्म निर्देशक राजू हिरवानी ने भी संबोधित किया,
कार्यक्रम में रूपनारायण साहू, अक्षय साहू, अरूण सार्वा, सुधेन्दु,प्रकाश निर्मलकर, सुमिरन, चितरंजन, अभिषेक, अनुज, अनिल, राहुल, मुश्ताक हाशमी, जितेंद्र सपहा, रवि ठाकुर, देवप्रकाश, शुभम रंगारी, घनेश्वर साहू, वीरेंद्र देवांगन, लालू वर्मा, आश्विन बोरकर, सोमज यादव, देशमुख, मीराज अली, संदीप, संजय, सोनू, अमित हिरवानी आदि उपस्थित हुए, कार्यक्रम के आरंभ में डा. खूबचंद बघेल के चित्र पर माल्यार्पण करके श्रद्धांजली व्यक्त किया गया ।

Updated : 19 July 2020 1:44 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top