Top
Home > Breaking News > क्वॉरेंटाइन सेंटर में रह रहे प्रवासी मजदूर महिला के नवजात बच्चे की मौत, बिना कोविड-19 के जांच किए ही कर दिया गया अंतिम संस्कार!

क्वॉरेंटाइन सेंटर में रह रहे प्रवासी मजदूर महिला के नवजात बच्चे की मौत, बिना कोविड-19 के जांच किए ही कर दिया गया अंतिम संस्कार!

क्वॉरेंटाइन सेंटर में रह रहे प्रवासी मजदूर महिला के नवजात बच्चे की मौत, बिना कोविड-19 के जांच किए ही कर दिया गया अंतिम संस्कार!
X

इसी क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखा गया था बच्चे को


प्रशासनिक लापरवाही का बड़ा मामला आया सामने!

ताहिर खान
कवर्धा- कोरोना वायरस के चलते पूरे देश में हाहाकार मचा हुआ है, पॉजिटिव मरीज के मिलने के साथ-साथ इससे मौत होने वाली की संख्या थमने का नाम नहीं ले रहा है। मजदूर भी जैसे तैसे अपने घर तक पहुंचने की कवायद कर रहे हैं, अभी भी लाखों मजदूर देश के अंदर अपने गांव और घर पहुंचने की जद्दोजहद में पैदल चल रहे हैं। ऐसे ही एक श्रमिक महिला जो रेड जोन नागपुर से आई हुई थी किसे 11 मई को सहसपुर लोहारा ब्लॉक के बांधाटोला के एक स्कूल में बनाये गए क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखा गया, जिसके गोद में 3 माह नवजात बच्चा भी था। 25 मई के आसपास बच्चे की तबीयत अचानक से खराब हो गई जिसके जांच के लिए टीम भी पहुंची हुई थी लेकिन बच्चे की हालत बिगड़ने लग गई और बच्चे की मौत हो गई।

बिना covid-19 जांच के ही कर दिया गया अंतिम संस्कार!

प्रशासनिक लापरवाही का एक और बड़ा कारनामा देखने को मिला सूत्रों के मुताबिक प्रवासी मजदूर महिला के नवजात बच्चे की मौत से पहले या बाद में मुख्य किट से कोरोना वायरस संबंधित जांच सैंपल नहीं लिया गया था, साथ ही पोस्टमार्टम भी नहीं किया गया और बच्चे अंतिम संस्कार कर दिया गया मामले के खुलासे के बाद अब प्रशासनिक अमला इसे ढकने में लगा हुआ है और सफाई देने की कोशिश कर रहे हैं। प्रशासनिक अमला अपनी गलतियों को मानने को तैयार नहीं है और जांच होने की बात कह रहा है, हालांकि यह जांच का विषय है।क्वॉरेंटाइन सेंटर या जांच टीम के द्वारा कोई लापरवाही बरती गई है या नहीं इसकी उच्चस्तरीय जांच की मांग की जा रही है।

नए कलेक्टर ने थामी कमान

इसी बीच पूर्व कलेक्टर अवनीश शरण की विदाई देने के पश्चात राजस्व मामले में अच्छी पकड़ रखने वाले रमेश शर्मा ने कलेक्टर पद का कार्यभार ग्रहण कर लिया है अब इनके सामने कई चुनौतियां बनी हुई है नए कलेक्टर से उम्मीद जताई जा रही है कि इस मामले को गंभीरता से लेकर जांच कराएंगे और साथ ही दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करेंगे।

कलेक्टर ने दिया जांच का भरोसा

मामले की जानकारी नवपदस्थ कलेक्टर रमेश शर्मा को होने के पश्चात तुरंत ही सीएमएचओ को तलब करते हुए इस मामले की जानकारी मांगी जिसमें सीएमएचओ ने बताया कि 2 दिन पहले ही बच्चे के स्वास्थ्य परीक्षण किया गया था और वह स्वस्थ हो गया था तथा सभी प्रकार से जांच कर ली गई है। CG संवाद news से बात करते हुए कलेक्टर ने भरोसा दिलाया कि इस मामले की जांच की जाएगी.

Updated : 28 May 2020 2:25 PM GMT
Next Story
Share it
Top