Top
Home > Breaking News > कोरोना वायरस की जंग में सरकार की मदद के लिए 9 वर्षीय बच्ची ने तोड़ दी गुल्लक, 3001 रुपये राहत कोष में की दान।

कोरोना वायरस की जंग में सरकार की मदद के लिए 9 वर्षीय बच्ची ने तोड़ दी गुल्लक, 3001 रुपये राहत कोष में की दान।

कोरोना वायरस की जंग में सरकार की मदद के लिए 9 वर्षीय बच्ची ने तोड़ दी गुल्लक, 3001 रुपये राहत कोष में की दान।
X

अन्वेषा को सर्टिफ़िकेट देते कलेक्टर भूरे

शुभांशु शुक्ला
मुंगेली-नगर के विनोबा भावे वार्ड निवासी राजेश देवांगन की 9 वर्षीय पुत्री अन्वेषा देवांगन ने अनोखी मिसाल पेश की है, जहां एक तरफ दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रहा है वहीं दूसरी तरफ इस 9 वर्षीय बच्ची अन्वेषा ने इस महामारी से लड़ने के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष में अपने गुल्लक में जमा किए 3001 रुपए की आर्थिक मदद कर इस मुसीबत के समय मे अपनी सहभागिता दर्ज कराई है अन्वेषा देवांगन पिछले 2 साल से सायकल लेने के लिए अपने गुल्लक में पैसे इकट्ठे किए थे लेकिन अखबार और न्यूज़ चैनल के माध्यम से इस बच्ची को जब पता चला कि हमारे देश में कोरोना नामक महामारी पैर पसार रहा और इस मुसीबत में सभी लोग यथा संभव आर्थिक रूप से सरकार की मदद कर रहे हैं,जिसे देख इस बच्ची से भी रहा नहीं गया और इस बच्ची ने अपने पिता राजेश देवांगन और अपने वार्ड पार्षद श्रीनिवास सिंह को मुख्यमंत्री सहायता कोष में मदद करने की बात कही,

कलेक्टर भूरे ने की सराहना
बुधवार को वार्ड पार्षद श्री निवास सिंह बच्ची को लेकर कलेक्टोरेट पहुंचे और मुंगेली कलेक्टर डॉक्टर एस एन भूरे को 9 वर्षीय बच्ची अन्वेषा ने अपना गुल्लक सौंपा,जिसके बाद गुल्लक में रहे पैसो की गिनती की गई जिसमे से 3001 रुपये के सिक्के मिले, जिसके बाद कलेक्टर एस एन भूरे ने बच्ची का आभार जताते हुए उसे सर्टिफिकेट और सैनिटाइजर देकर सम्मानित किया और बच्ची के इस कदम की सराहना की।

Updated : 22 April 2020 12:28 PM GMT
Next Story
Share it
Top