Top
Home > Breaking News > भूपेश सरकार का बड़ा फैसला- कुछ दिन की हुई प्रदेश में शराबबंदी, कोरोना वायरस इफेक्ट के चलते लिया गया फैसला।

भूपेश सरकार का बड़ा फैसला- कुछ दिन की हुई प्रदेश में शराबबंदी, कोरोना वायरस इफेक्ट के चलते लिया गया फैसला।

भूपेश सरकार का बड़ा फैसला- कुछ दिन की हुई प्रदेश में शराबबंदी, कोरोना वायरस इफेक्ट के चलते लिया गया फैसला।
X

मुख्यमंत्री ने सोशल मीडिया में दी जानकारी।

31 मार्च तक रहेगी शराबबंदी

ताहिर खान, प्रधान संपादक

रायपुर-कोरोना वायरस COVID-19 के संक्रमण से आम जन को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से भूपेश बघेल सरकार ने एक बेहद अहम और बड़ा फैसला लिया हैं जिसकी मांग पिछले कई दिनों से जनमानस कर रहे थे।कोरोना वायरस के फैलते दायरे को देखते हुए सरकार ने देशी/विदेशी मदिरा दुकानों, छत्तीसगढ़ स्टेट बेवरेजेस कॉर्पोरेशन के गोदाम (रायपुर,बिलासपुर) तथा जिलों में स्थित देशी मदिरा के मद्य भण्डागारों को दिनांक 23 से 25 मार्च तक बंद करने का निर्णय लिया गया। जिसे बाद में 31 मार्च तक बढ़ाने का फैसला लिया गया है।
वायरस के एक पॉजिटिव मरीज रायपुर में मिलने के बाद छत्तीसगढ़ में कोरोना को लेकर छत्तीसगढ़वाशी दहशत में है और सुरक्षा के तमाम तरह के उपाय कर रहे हैं। वहीं सरकार ने जितने भी सार्वजनिक स्थल है जहां भीड़ लगने की संभावनाएं रहती हैं उन लोगों को बंद करा दिया है चौपाटी ठेला पर से लेकर परिवहन जो बाहर राज्यों से छत्तीसगढ़ आती-जाती हैं उन्हें बंद करा दिया गया है, साथ ही शासकीय कार्यालयों में भी भीड़ जमा ना हो उसके लिए सरकार ने अधिकारी कर्मचारियों को वक्त का बंटवारा करते हुए में काम करने की हिदायत दी है।

शराब दुकान बंद करने की लगातार हो रही थी मांग

कोरोना वायरस चाइना से होते होते छत्तीसगढ़ तक पहुंच गया है जिसके बाद लगभग सभी सार्वजनिक स्थल बंद हो चुके है, लेकिन शराब की दुकानें खुली थी और सुबह से शाम तक की भीड़ मदिरा दुकानों में देखी जा रही थी जिसे लेकर सोशल मीडिया में बंद करने को लेकर एक जन आंदोलन जैसा शुरू हो चुका था। सरकार ने गंभीरता को देखते हुए कुछ दिनों के लिए शराब दुकानों को बंद करने का फैसला लिया है आम जनता ने इस फैसले का स्वागत किया है

Updated : 21 March 2020 1:13 PM GMT
Next Story
Share it
Top