Top
Home > नक्सली > सुकमा में कल हुए नक्सली हमला में17 जवान शहीद, 14 घायल जवानों का चल रहा है इलाज।हथियार भी नक्सलियों ने लूटे।

सुकमा में कल हुए नक्सली हमला में17 जवान शहीद, 14 घायल जवानों का चल रहा है इलाज।हथियार भी नक्सलियों ने लूटे।

सुकमा में कल हुए नक्सली हमला में17 जवान शहीद, 14 घायल जवानों का चल रहा है इलाज।हथियार भी नक्सलियों ने लूटे।
X

घायल जवानो से मिले सीएम भूपेश बघेल

ताहिर खान, प्रधान संपादक

रायपुर- सुकमा के चिन्तागुफ़ा के एलमागुंडा में जवानों और नक्सलियों के बीच कल बड़ी मुठभेड़ हुई थी । जिसमे 17 जवान शहीद हो गए व 14 जवान घायल है। शहीद जवान में 12 डीआरजी और 5 एसटीएफ के जवान थे।
घायल जवानों को कल बुर्कापाल कैम्प लाया गया था। कैम्प में घायल जवानों का प्राथमिक उपचार पश्चात घायल 14 जवानों को रायपुर किया गया दिया गया था। अभी भी दो जवानों की हालत नाज़ुक बनी हुई है।

लगभग 500 की संख्या में डीआरजी, एसटीएफ के जवान सर्चिंग पर गए थे उसी दौरान नक्सलियो ने जवानों पर घात लगाकर किया हमला था। जवानों के द्वारा ताबड़तोड़ जवाबी कार्यवाई में कई नक्सलियों कई मारे जाने की बात भी आई थी लेकिन अभी तक एक भी नक्सलियो के शव बरामद नही हुआ है। वही जवानों के 17 शव बरामद कर लिए हैं जिसकी पुष्टि बस्तर के आईजी पी सुंदरराज ने की है।

हथियार लूट ले गए नक्सली

मुठभेड़ के बाद शहीद हुए जवानों से नक्सलियों ने बड़ी मात्रा में हथियार थे उसे लूट कर ले गए।

क्या इंटेलिजेंस से हुई चूक

कल जब इतनी बड़ी तादाद में
जवान सर्चिंग में निकले हुए थे तो क्या वह बड़ी संख्या में जंगल में नक्सलियों की मौजूदगी का पता नहीं चल पाया, क्या इंटेलिजेंस ब्यूरो से कोई चूक हुई या समय रहते जवानों को सतर्क नहीं किया जा सका। जब जवान ही 400 से 500 के बीच की संख्या में थे तो नक्सली इतने भारी कैसे पड़ गए कि 17 जवान शहीद हो गए। वहीं अभी तक एक भी नक्सलियों का शव बरामद होने की खबर नहीं मिली है साथ ही नक्सली हथियार भी जवानों के लूट ले गए।

एंबुश लगाकर नक्सलियों ने किया हमला

हमेशा की तरह इस बार भी जवानों को अपने एंबुश में फंसा कर ऊंचे पहाड़ों से ताबड़तोड़ हमला करने की खबर है जहाँ चारो ओर से जवानों पर गोली चल रही थी, जिसके चलते जवानों को इतनी बड़ी नुकसान उठाना पड़ा है।

Updated : 22 March 2020 11:02 AM GMT
Next Story
Share it
Top