Top
Home > Breaking News > कोरोना वायरस इफेक्ट-व्हाट्सएप्प में भ्रामक पोस्ट, चारामा के जनपद पंचायत सीईओ निलंबित।

कोरोना वायरस इफेक्ट-व्हाट्सएप्प में भ्रामक पोस्ट, चारामा के जनपद पंचायत सीईओ निलंबित।

कोरोना वायरस इफेक्ट-व्हाट्सएप्प में भ्रामक पोस्ट, चारामा के जनपद पंचायत सीईओ निलंबित।
X


ताहिर खान/ राजकुमार कश्यप

कांकेर-अभी तक आपने सुना होगा कि कोरोना वायरस इंसानों की जान ले रहा है, लेकिन अब नौकरी भी लेने लगा है। जिसका ताजा उदाहरण कांकेर में एक बार फिर देखने को मिला है जहां जनपद पंचायत चारामा के सीईओ को कलेक्टर केएल चौहान ने कोरोना वायरस के बारे में व्हाट्सएप में गलत एवं भ्रामक जानकारी फैलाने के लिए निलंबित कर दिया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत चारामा के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जी एस बढ़ाई ने अपने व्हाट्सएप नंबर से 13 मार्च की रात को कोरोना वायरस को लेकर जनपद पंचायत चारामा ग्रुप में एक भ्रामक पोस्ट किया था जो कई जगह पर फॉरवर्ड भी हुआ, लोगों में भ्रम की स्थिति भी सोशल मीडिया फैली. कलेक्टर केएल चौहान ने इस मामले को संज्ञान में लेते हुए सोशल मीडिया के गलत उपयोग एवं सिविल सेवा आचरण नियम के विरुद्ध मानते हुए तत्काल प्रभाव से मुख्य कार्यपालन अधिकारी चारामा को निलंबित कर दिया गया है।

बीआरसी भी हो चुके हैं निलंबित

ज्ञात हो कि कुछ दिन पूर्व कोरोना वायरस को लेकर व्हाट्सएप में भ्रामक और अपुष्ट जानकारी डालने के मामले में कांकेर के विकासखंड नरहरपुर में पदस्थ बीआरसी हिमन कोर्राम को भी कलेक्टर ने निलंबित कर दिया था।

राज्य शासन ने जारी की अधिसूचना

इस निलंबन पत्र में कांकेर कलेक्टर के एल चौहान ने राज्य शासन द्वारा जारी अधिसूचना को शामिल करते हुए लिखा है कि कोरोना वायरस को लेकर लगातार सोशल मीडिया व प्रिंट मीडिया के साथ इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में चल रहे हैं पोस्ट या खबर को लेकर राज्य सरकार ,परिवार कल्याण एवं स्वास्थ्य विभाग ने 13 मार्च को एक अधिसूचना जारी करते हुए कहा है कि कोई भी प्रिंट इलेक्ट्रॉनिक मीडिया सरकार के बिना पूछे कोई पोस्ट या खबर नहीं करेंगे यदि ऐसा करेंगे तो यह दंडनीय अपराध की श्रेणी में आएगा।
कोरोना वायरस को लेकर सोशल मीडिया में फैल रहा भ्रम

सोशल मीडिया में इन दिनों कोरोना वायरस पर लाखों पोस्ट सर्कुलेट किया जा रहा है जिसमें से अधिकतर भ्रामक व अपुष्ट पोस्ट होते हैं जिसके चलते कोरोना वायरस के प्रति लोगों में भय का वातावरण बना हुआ है।

Updated : 17 March 2020 9:59 PM GMT
Next Story
Share it
Top