Top
Home > खास खबर > महिला बिलखती रही, फिर भी खड़ी फसल पर चलवा दी जेसीबी, अवैध कब्जे का आरोप।

महिला बिलखती रही, फिर भी खड़ी फसल पर चलवा दी जेसीबी, अवैध कब्जे का आरोप।

महिला बिलखती रही, फिर भी खड़ी फसल पर चलवा दी जेसीबी, अवैध कब्जे का आरोप।
X

0 रोते-रोते महिला हुई बेहोश।

0 सारंगपुर गांव का मामला।

ताहिर खान

कवर्धा- जिस तरह इंसान अपने छोटे बच्चों को बेहद सावधानी और मोहब्बत के साथ पाल कर बड़ा करता है उसी प्रकार किसान के लिए खेत में उगी फसल ही उसकी संतान जैसे होती है, जिसे वह दिन रात खून पसीने एक कर बड़ा करता है ऐसे में कोई नुकसान पहुंचा दे तो उस किसान पर आफत टूट पड़ती है। बोड़ला ब्लॉक के सारंगपुर गांव कुछ ऐसा ही मामला सामने आया है, संतोष यादव ने एक बड़ी नुमा जगह में गन्ना का फसल उगाया था। पंचायत की माने तो यह जगह धान चबूतरा के लिए आवंटित था, और धान खरीदी होने से पहले इस जगह पर धान चबूतरा का निर्माण होना था, लेकिन संतोष ने इस जगह को कब्जा कर गन्ने की फसल उगाई है। इस मामले को लेकर पंचायत ने तीन अलग-अलग दिनांक में नोटिस भी दिया था, इसकी शिकायत तहसीलदार बोड़ला को भी किया था, शिकायत के बाद तहसीलदार पूरे लाव लश्कर व जेसीबी लेकर किसान की खेत के भीतर घुस गए संतोष यादव के पूरे परिवार रोने लगे और फसल को नुकसान नहीं पहुंचाने की मिन्नतें करने लगे, तहसीलदार को किसान ने तमाम तरह से मनाने की कोशिश की साथ ही यह भी कहा कि फसल अगर चली जाती है तो उसका पूरा परिवार तबाह बर्बाद हो जाएगा, लेकिन तहसीलदार ने नियमों व शिकायत का हवाला देते हुए किसान के खेत में जेसीबी चलवा दी, इसी बीच सुखी यादव रोते-रोते बेहोश हो गई जिसे बोड़ला सामुदायिक केंद्र में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। कुल मिलाकर अवैध कब्जा और राजनीति दोनों से जुड़ा हुआ यह मामला दिखाई दे रहा है। बहरहाल अवैध कब्जे के आरोप में किसान के फसल पर जेसीबी चल गई है और उसे बड़ा नुकसान हुआ है जिसकी भरपाई शायद ही हो पाएगा।

तहसीलदार नेअपनी गाड़ी से बेहोश महिला को भेजा अस्पताल

CG संवाद से बात करते हुए तहसीलदार मनीष वर्मा ने बताया कि यह मामला पूर्णता अवैध कब्जे का था, जिसकी शिकायत पंचायत के द्वारा किया गया था पंचायत ने इससे पूर्व तीन बार उसे खाली करने का नोटिस भी जारी कर चुका था, सामने धान खरीदी है चबूतरा का निर्माण बेहद आवश्यक है, जिसके चलते बिना किसी बल प्रयोग या बिना किसी को नुकसान पहुंचाए बाड़ी को खाली कराया गया है, ताकि धान का चबूतरा निर्माण हो सके सुखी यादव जो यह दौरान बेहोश हो गई थी उसे तहसीलदार मनीष वर्मा ने गंभीरता से लेते हुए अपने वाहन से तुरंत ही बोड़ला समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा साथ ही डॉक्टर को तुरंत ही इलाज करने के लिए कहा और दूसरे की गाड़ी में लिफ्ट लेकर तहसीलदार बोड़ला पहुंचे।

Updated : 14 Oct 2020 3:15 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top