Top
Home > खास खबर > मरवाही उपचुनाव- राजनीतिक उठापटक के बीच मंत्री मोहम्मद अकबर ने किया जीत का दावा,बोले मरवाही परंपरागत सीट है हमारी।

मरवाही उपचुनाव- राजनीतिक उठापटक के बीच मंत्री मोहम्मद अकबर ने किया जीत का दावा,बोले मरवाही परंपरागत सीट है हमारी।

मरवाही उपचुनाव- राजनीतिक उठापटक के बीच मंत्री मोहम्मद अकबर ने किया जीत का दावा,बोले मरवाही परंपरागत सीट है हमारी।
X

0 कवर्धा एक दिवसीय प्रवास में पहुंचे थे मोहम्मद अकबर।

ताहिर खान

पॉलिटिकल वेबडेस्क- मरवाही चुनाव इन दिनों अपने पूरे शबाब पर है, प्रतिदिन नए नए राजनीतिक उठापटक की खबरें आ रही हैं। तीनों प्रमुख पार्टियों में कार्यकर्ताओं के रूठने और मनाने का सिलसिला भी जारी है। बड़े नेता मरवाही सीट को जीतने के लिए रणनीति बना रहे हैं, पार्टियां पूरी तरह से चुनावी मैदान में अपने स्टार प्रचारकों को उतारने के लिए तैयार है। अभी तक किसी बड़े नेताओं ने मरवाही सीट को जीतने का खुले रूप से दावा नहीं किया था इसी बीच कवर्धा प्रवास के दौरान दिग्गज मंत्री मोहम्मद अकबर ने मरवाही सीट पर कांग्रेस की जीत होने का दावा किया है, उन्होंने CG संवाद से बात करते हुए बोले कि मरवाही शुरू से ही कांग्रेस की परंपरागत सीट थी बीच में पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी कुछ कारणवश इधर उधर भटक गए थे, लेकिन अब फिर यह सीट कांग्रेस के खाते में वापसी होगी। विकास के साथ साथ जो वादा हमने किया था अधिकतर वादों को पूरा किया है। लोग क्षेत्र का विकास चाहते हैं, और यह कांग्रेस पार्टी ही कर सकती है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में यह चुनाव हो रहा है जिसमें कांग्रेस के प्रत्याशी के के ध्रुव की जीत होगी।




प्रत्यशी चयन से नाराज़ सरपंच संघ माने

2 दिन पूर्व तीनों विकास खंड के सरपंच संघ एवं कुछ आदिवासी नेताओं ने संयुक्त बैठक कर प्रत्याशी केके ध्रुव के नाम पर आपत्ति दर्ज कराते हुए कहा था कि यदि कांग्रेस पैनल के बाहर से प्रत्याशी उतारती है तो वह बगावत कर अपना निर्दलीय प्रत्याशी खड़ा कर चुनाव लड़ेंगे, लेकिन अब कांग्रेस ने केके ध्रुव विकास खंड चिकित्सा अधिकारी को मैदान में उतार दिया है।जिसके बाद बड़े नेताओं के द्वारा बातचीत के बाद सरपंच संघ ने कांग्रेस को समर्थन के देने के लिए हामी भर दिया है,जो कांग्रेस के लिए राहत भरी खबर है।

रिचा जोगी की जाति का मुद्दा गरमाया

मुख्यमंत्री अजीत जोगी की बहू और अमित जोगी की पत्नी रिचा जोगी की जाति का मामला धीरे-धीरे राजनीतिक तूल पकड़ता जा रहा है मामला कोर्ट तक पहुंचने के बाद तय सीमा में जवाब मांगा गया था जिस पर रिचा जोगी ने जवाब देते हुए कहा कि COVID-19 की वजह से कार्यालय बंद रहने के कारण उन्हें दस्तावेज उपलब्ध नहीं हो पाया है और उन्होंने इसके लिए समय मांगा है उधर अमित जोगी ने बेवजह परेशान करने का आरोप लगाया है।

Updated : 13 Oct 2020 2:51 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top