Top
Home > Breaking News > आंदोलन का हुआ राजनीतिकरण, जोगी कांग्रेस ने सतनामी समाज के आंदोलन को दिया समर्थन, कहा-दोषियों पर हो कार्रवाई

आंदोलन का हुआ राजनीतिकरण, जोगी कांग्रेस ने सतनामी समाज के आंदोलन को दिया समर्थन, कहा-दोषियों पर हो कार्रवाई

आंदोलन का हुआ राजनीतिकरण, जोगी कांग्रेस ने सतनामी समाज के आंदोलन को दिया समर्थन, कहा-दोषियों पर हो कार्रवाई
X

0 धरमपुरा में सतनाम भवन तोड़े जाने का पिछले 2 दिनों से समाज कर रहा है विरोध।

ताहिर खान

कवर्धा- ग्राम धरमपुरा में शुक्रवार सुबह 8 बजे अवैध कब्जा जिला प्रशासन के द्वारा हटाया गया था। समाज के द्वारा किये जा रहे आंदोलन अब राजनीतिक रूप भी लेने लगा है, सतनामी समाज के लोग पिछले 2 दिनों से धरमपुरा से लेकर जिला मुख्यालय के मिनीमाता चौक में लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं। पिछले दो दिनों से चक्का जाम भी किया जा रहा है, लेकिन अभी तक कोई ठोस हल नहीं निकल पाया है, इसी बीच शनिवार को जेसीसीजे विधायक धर्मजीत सिंह और अमित जोगी धरमपुरा पहुंचे। उन्होंने समाज के लोगों से मुलाकात की और कहा कि गांव में 5 एकड़ से अधिक जमीन पर अवैध कब्जा है लेकिन कारवाई सिर्फ समाज विशेष पर की जा रही है। यह सरकार एक वर्ग विशेष के अस्तित्व को खत्म करना चाहती है। इस पूरे प्रकरण के दोषियों पर कड़ी कारवाई की मांग की है।

अमित जोगी ने कहा कि परम पूज्य गुरु बाबा घासीदास किसी समाज विशेष के नहीं अपितु सभी समाज के पथ प्रदर्शक हैं। उनकी आस्था के केंद्र बिंदु सतनाम भवन और गुरुद्वारा को ध्वस्त कर न केवल सतनामी समाज बल्कि छत्तीसगढ़ के सभी समाज को आघात हुआ है।धरमपुरा जाने के पश्चात धरमजीत सिंह और अमित जोगी मिनीमाता चौक में चक्का जाम में भी सम्मिलित हुए। जंहा अमित जोगी ने कहा कि JCCJ हमेशा सतनामी समाज के साथ रहा था और आगे भी साथ खड़ा रहेगा।


JCCJ की ओर से प्रमुख रूप से राज्य सरकार से ये 7 मांग की हैं -

0 समाज को ज़मीन वापस की जाए।

0 समाज के लोगों के खिलाफ दर्ज FIR वापस ली जाए।

0 कम से कम 5 करोड़ की लागत में नया सतनाम भवन बनाया जाए।

0 लाठीचार्ज और सतनाम भवन धवस्तिकरण की उच्च स्तरीय न्यायिक जाँच की जाए ।

0 दोषियों के ख़िलाफ़ तत्काल FIR दर्ज की जाए ।

0 16% आरक्षण बहाल किया जाए।

Updated : 28 Nov 2020 1:24 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top