Your Voice, बेबाक़, निष्पक्ष पत्रकारिता का ध्वजवाहक

हजरत महबूब शाह दातार का उर्सपाक 12 को,धूमधाम से निकलेगी संदल-चादर।

0 आज शब ए बारात की रात मस्जिद के सामने होगी तकरीर
0 सर्वधर्म सद्भाव का केंद्र है दातार सरकार का मजार।


ताहिर खान
कवर्धा. ताजदार ए कवर्धा हजरत महबूब शाह दातार का 115वां उर्सपाक प्रतिवर्ष के अनुसार इस वर्ष भी मनाया जा रहा है. बाबा साहब का मजार शहर गुप्ता पारा में स्थित है जहां स्थानीय लोगों के अलावा अन्य जिलों से भी लोग अपनी मन्नत मांगने के लिए आते हैं और मन्नत पूरी होने के बाद सालाना उर्सपाक के दौरान चादर चढ़ाई जाती है. मजार शरीफ के अंदर बेहद आकर्षक ढंग से गुंबद को कांच से सजाया गया है जिसकी सुंदरता देखती ही बनती है. हजरत महबूब शाह दातार के मजार में सभी धर्मों के लोगों का पूरे वर्ष आना-जाना लगा रहता है. उर्सपाक को सर्व धर्म सद्भाव और सामाजिक एकता के रूप में मनाया जाता है. कमेटी के उपाध्यक्ष ताहिर खान ने बताया कि आज रात 9 बजे जामा मस्जिद के सामने शब ए मेराज की बड़ी रात के मौके पर हजरत रशीद साहब जबलपुरी की तकरीर होगी. 12 मार्च शुक्रवार को जामा मस्जिद एकता चौंक से संदल एवं चादर जमात की ओर से जुलुस की शक्ल में शाम 4.30 बजे निकलेगी जो शहर का प्रमुख मार्गों का गश्त करते हुए गुप्ता पारा स्थित हजरत महबूब शाह दातार  के मजार पहुंचेगी जहां संदल के बाद चादरपोशी की जाएगी. इस दौरान सभी धर्म के लोग प्रमुख रूप से उपस्थित रहेंगे. बाद सलाम व फातिहा के बाद मजार शरीफ के पीछे स्थित पुत्री शाला में आम लंगर का कार्यक्रम रखा गया है जिसके पश्चात रात 9 बजे मजार शरीफ के पास शमा महफिल (कव्वाली) कव्वाल रशीद ताज के द्वारा कव्वाली प्रस्तुत किया जाएगा. दूसरे दिन 13 मार्च को सुबह 9 बजे कुल की फातिहा रखा गया है. अलग – अलग मोहल्लों से भी चादर धूम-धाम के साथ निकाली जाएगी.

You may have missed